होमन्यूज़पिछड़ा वर्ग के बिखराव को रोकना होगा - अशोक कुमार विश्वकर्मा

पिछड़ा वर्ग के बिखराव को रोकना होगा – अशोक कुमार विश्वकर्मा

भभुआ, कैमूर (17 अगस्त, 2020) | बिहार विधान सभा चुनाव के मद्देनजर शोषित वंचित अति पिछड़ा दलित एवं अल्पसंख्यक वर्ग के उपेक्षित जातियों को राजनीतिक भागीदारी के लिए संगठित करने तथा मजबूत राजनीतिक विकल्प तैयार करने के उद्देश्य से पूर्व केंद्रीय विदेश व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा की अध्यक्षता व नेतृत्व में गठित यूनाइटेड डेमोक्रेटिक अलायंस द्वारा भभुआ स्थित एक मैरिज हॉल में आयोजित जन संवाद कार्यक्रम के अंतर्गत ऑल इंडिया यूनाइटेड विश्वकर्मा शिल्पकार महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक कुमार विश्वकर्मा ने कहा कि सर्व समावेशी राजनीतिक विकल्प तैयार करने हेतु चुनाव के समय होने वाले पिछड़ा वर्ग के बिखराव को रोकना होगा। यह तभी संभव है जब उनमें सामाजिक सुरक्षा एवं समुचित भागीदारी का भरोसा पैदा होगा।

latest news from bihar in hindi
जन संवाद, कैमूर

आगे श्री विश्वकर्मा ने कहा – चुनाव आते ही राजनीतिक दलों के घोषणा पत्र में पिछड़ा समुदाय को लुभाने के लिए भरपूर लुभावनी घोषणाएं की जाती हैं तथा सभी दलों द्वारा अलग-अलग जातियों के सम्मेलन कर दूसरों के बीच पैठ बनाने की कोशिश शुरू हो जाती है। सभी पार्टियां वोट के लिए पिछड़ी जातियों को बेवकूफ बनाकर ठग रहीे हैं। ओबीसी का जो आरक्षण मिला है उसका लाभ जाति विशेष के लोगों को ही मिल रहा है। बिहार में पिछड़े वर्ग की लगभग 51 प्रतिशत आबादी में करीब 24 प्रतिशत अति पिछडे़ हैं। इनमें लगभग 94 जातियां है। अति पिछड़ों में आने वाली जातियों को बिहार में पचपनिया, पंचपवनियां जैसे नामों से पुकारा जाता रहा है। यह बिखरी हुई व छोटी आबादी वाली जातियां हैं। अकेली जाति के रूप में इनका आधार बहुत बड़ा नहीं है। इसलिए इन जातियों से नेता नहीं पैदा हो सके हैं।

आगे श्री विश्वकर्मा बोले – आजादी के बाद की बिहार की राजनीति को अगर देखें, तो इन समूहों से बड़े नेता कम ही दिखाई पड़ते हैं। इसलिए अनेक अति पिछड़ी जातियां अपने को अनुसूचित जाति में शामिल किए जाने की मांग करती रही है क्योंकि यह पिछड़ों में आगे बढ़ चुकी जातियों की स्पर्धा में टिक नहीं पाते हैं। वह महसूस करते हैं की मौजूदा जनतांत्रिक व्यवस्था में उनकी जितनी हिस्सेदारी है, वह उन तक नहीं पहुंच पा रही है। उन्होंने चैनपुर विधानसभा से लोजपा सेक्यूलर के उम्मीदवार राम राज शर्मा को पूर्ण समर्थन देते हुए चुनाव जिताने की अपील की तथा राजनीतिक भागीदारी के लिए समाज के लोगों को अधिक से अधिक चुनाव लड़ने का आह्वान किया।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि यू.डी.ए. के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय यशवंत सिन्हा जी, लोक जनशक्ति पार्टी सेकुलर के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ सत्यानंद शर्मा, पूर्व सांसद अरुण सिंह, पूर्व मंत्री देवेंद्र प्रसाद, पूर्व सांसद नागमणि सिंह, पूर्व मंत्री रेणु कुशवाहा, लोजपा सेकुलर के कार्यकारी अध्यक्ष विष्णु पासवान, श्रीमती संगीता सिंह, लोहार महासभा के प्रदेश अध्यक्ष जगन नारायण शर्मा, श्रीकांत विश्वकर्मा, नंदलाल विश्वकर्मा, दीनदयाल विश्वकर्मा, कालिका विश्वकर्मा, सुरेश विश्वकर्मा, एडवोकेट लोचन विश्वकर्मा, सुरेश शर्मा, राम चेला शर्मा, शिवकुमार शर्मा एवं संजय शर्मा सहित हजारों लोग थे।

- विज्ञापन -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- विज्ञापन -

लोकप्रिय पोस्ट

- विज्ञापन -
close