होमन्यूज़संविधान शिल्पाचार्य भारत रत्न बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर की जयंती पर...

संविधान शिल्पाचार्य भारत रत्न बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर की जयंती पर सभी देशवासियों को बहुत बहुत शुभकामनाएं

पटना | (14 अप्रैल, 2022): डॉ. भीमराव अंबेडकर – Babasaheb Dr Bhimrao Ambedkar Jayanti 2020 डॉ॰ बाबासाहब आम्बेडकर नाम से लोकप्रिय, भारतीय बहुज्ञ, विधिवेत्ता, अर्थशास्त्री, राजनीतिज्ञ, और समाजसुधारक थे। उन्होंने सामाजिक भेदभाव के विरुद्ध अभियान चलाया था। बाबासाहेब महिलाओं के और किसानों, श्रमिकों के अधिकारों का समर्थन भी किया था। वे स्वतंत्र भारत के प्रथम विधि एवं न्याय मंत्री, भारतीय संविधान के जनक एवं भारत गणराज्य के निर्माण थे।

babasaheb dr bhimrao ambedkar jayanti
बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर की जयंती

डॉ॰ बाबासाहब आम्बेडकर विपुल प्रतिभा के छात्र थे। उन्होंने कोलंबिया विश्वविद्यालय और लंदन स्कूल ऑफ़ इकोनॉमिक्स दोनों ही विश्वविद्यालयों से अर्थशास्त्र में डॉक्टरेट की उपाधियाँ प्राप्त कीं तथा विधि, अर्थशास्त्र और राजनीति विज्ञान में शोध कार्य भी किये थे। व्यावसायिक जीवन के आरम्भिक भाग में ये अर्थशास्त्र के प्रोफेसर रहे एवं वकालत भी की तथा बाद का जीवन राजनीतिक गतिविधियों में अधिक बीता। तब बाबासाहब भारत की स्वतन्त्रता के लिए प्रचार और चर्चाओं में शामिल हो गए और पत्रिकाओं को प्रकाशित करने, राजनीतिक अधिकारों की वकालत करने और दलितों के लिए सामाजिक स्वतंत्रता की वकालत और भारत के निर्माण में उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा।

1956 में उन्होंने बौद्ध धर्म अपना लिया। 1990 में, उन्हें भारत रत्न, भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान से मरणोपरांत सम्मानित किया गया था। आज 14 अप्रैल को उनका जन्म दिवस आम्बेडकर जयंती एक तौहार के रूप में भारत समेत दुनिया भर में मनाया जाता है।

आज 14 अप्रैल 2022 को संविधान शिल्पाचार्य भारत रत्न बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर की उनकी जयंती पर कोटि-कोटि नमन और सभी देशवासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं।

Satish
Satish
सतीश कुमार शर्मा ApnaLohara.Com नेटवर्क के संस्थापक और एडिटर-इन-चीफ हैं। वह एक आदिवासी, भारतीय लोहार, लेखक, ब्लॉगर और सामाजिक कार्यकर्ता हैं।
- विज्ञापन -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

thirteen + 1 =

- विज्ञापन -

लोकप्रिय पोस्ट

- विज्ञापन -
close