होमन्यूज़रातो रात फेमस हो गया, यह व्यक्ति आखिर क्या कर दिया?, यह...

रातो रात फेमस हो गया, यह व्यक्ति आखिर क्या कर दिया?, यह कौन हैं?, वायरल हुआ वीडियो

वायरल वीडियो: अपने एक सुप्रसिद्ध कहावत सुना ही होगा – “आवश्यकता आविष्कार की जननी है”। इसके अर्थ है – हमारे जीवन को सुचारू रूप से चलने के लिए जब किसी वस्तु की बहुत जरुरत पड़ती हैं, हम उस विशिष्ट वस्तु के बिना जीवित नहीं रह सकते हैं या हमारा विशिष्ट कार्य पूरा नही हो सकता तो हम उस जरूरत को पूरा करने के समाधान खोजते हैं जिसके परिणामस्वरूप किसी नई वस्तु का आविष्कार होता है।

लेकिन यह पेट्रोल और डीजल के कीमतों में लगातार बढ़ोतरी के कारण एक नई अविष्कार हुआ है। अविष्कारक का एक वीडियो वायरल हो गया, जिसे रातो रात कई मिलियन लोगो ने देखा। पढ़िये इस आर्टिकल में आगे की जानकारी कि क्या अविष्कार हुआ है? और यह अविष्कार किसने किया है जिसके वजह से रातो रात फेमस हो गए।

वायरल वीडियो में राकेश विश्वकर्मा जी हैं जो रजईपुर जंगीपुर गाजीपुर उत्तर प्रदेश निवासी हैं। जिनका फूलन पुर में छोटा मोटा एक दुकान है। इनका पास दो दो गाड़िया है। लेकिन पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमत के कारण आने जाने में जो खर्च लगता है उसे उठाना मुश्किल है। इसलिए इन्होंने स्वयं से इलेक्ट्रिक-बैटरी वाला साइकिल अविष्कार कर दिया है। जिससे इनको प्रतिदिन 50-60 रुपये को बचत हो जाती है।

इनके इलेक्ट्रिक-बैटरी वाला साइकिल को चलाते हुए एक वीडियो सोशल मीडिया पर आ गया। जब अपना लोहार फेसबुक पेज पर यह वीडियो अपलोड हुआ तो इतना तेजी से वायरल हुआ कि रातो रात करोड़ो लोगो तक पहुंच गया। जिसे 6 मिलियन यानी कि 60 लाख से अधिक लोगों ने देखा और पसंद किया। साथ साथ जम कर तारीफ भी किया।
इस इलेक्ट्रिक-बैटरी वाला साइकिल का ख़यासियत है – एक बार फुलचार्ज होने के बाद 50 से 60 किलोमीटर चलता है। बैटरी को फुल चार्ज होने में 7-8 घंटे लगता है। इस इलेक्ट्रिक साइकिल का अधिकतम रफ्तार 25 किमी/घंटा है और मोटरसाइकिल की तरह आगे-पीछे लाइट भी लगा हुआ है। इसे चलाने में काफी आरामदेह भी है। इनको बहुत-बहुत धन्यवाद। साथ ही वीडियो रिकॉर्डिंग करने वाले भाई को आभार।

अगर आप भी इस वीडियो को देखना चाहते हैं तो नीचे वीडियो देख सकते हैं और अधिक से अधिक शेयर करे।

राकेश विश्वकर्मा का वायरल वीडियो

सोशल मीडिया पर लोगों का प्रतिक्रिया कुछ इस तरह है:-

आवश्यकता आविष्कार की जननी है। विश्वकर्मा जी को उनकी खोज के लिए साधुवाद। उनको सोशल मीडिया पर परचित कराने के लिए ‘अपना लोहार‘ को धन्यवाद। – कृष्णा विश्वकर्मा

बहुत ही सराहनीय कदम। विश्वकर्मा समाज को बहुत ही उपेक्षित कर दिया गया है। सच्चाई तो ये है कि विश्वकर्मा समाज आज भी उतना ही कार्यकुशलता है, जितना पहले था। अभियंता का ये जन्मजात गुण है, जिसे सर्वथा उपेक्षा ही मिलती रही, समाज को प्रोत्साहन की जरूरत है और महत्व भी है। उन्हें किसी अभियंता कालेज जाने की जरूरत नहीं पडती है। लेकिन आजकल सर्टिफिकेट के बिना उसकी कार्यकुशलता को तवज्जो नहीं मिलता है। जय बाबा विश्वकर्मा – इंदु शर्मा

विश्व के निर्माणकर्ता विश्वकर्मा समाज को नमन – विशाल यादव

जय हो विश्वकर्मा जी की अद्भुत कार्य यह तो जन्मजात से ही हमें ज्ञान और सद्बुद्धि मिली हुई है कि हम कुछ भी कार्य बड़ी आसानी से कर बैठते हैं। परंतु अपना प्रचार प्रसार करने में पीछे रह जाते हैं। इस पर एक बार विचार करना चाहिए तभी विश्वकर्मा समाज का उद्धार होगा। – हरीश विश्वकर्मा

सरकार के तरफ से ऐसे व्यक्ति को पुरस्कृत करके और दूसरे राज्यों में डालने के लिए सरकार इन से सामंजस्य स्थापित करें और सभी राज्यों में इस मॉडल को विकसित करने के लिए केंद्र खोलें। धन्यवाद बधाई हो – ननद किशोर निराला

You are great and your work is great – दिनेश शर्मा

पेट्रोल की बढ़ती कीमत को मद्देनजर रखते हुए यह राकेश जी का सराहनीय कदम है इसके लिए इन्हें हार्दिक बंधाई – वीरेंद्र सिंह ज्योतिरानंद

हार्दिक शुभकामनाएं। हमारे देश में एक से बढ़कर एक आविष्कारक हैं किंतु उन्हें सही मंच नहीं मिल पाता है जिससे हमारे आविष्कार का मंचन विश्व पटल पर नहीं हो पाता हैं – संजय सिंह देवखरी

उत्तर प्रदेश सरकार को इन को पुरस्कृत करना चाहिए और इनको उचित सहयोग देकर इनके कार्य को आगे बढ़ाएं – विनोद शर्मा

भारत एक महान देश है। यहां प्रतिभा की कमी नहीं है, जरूरत है उनको आगे बढ़ाने की l हमारे देश की प्रतिभा को आगे बढ़ाने के लिए सरकार को ऐसे होनहार की मदद करना चाहिए। – दिनेश चौधरी

जय हो विश्वकर्मा समाज की ऐसे ही कलाकार को सरकार सम्मानित करें। – शिव कुमार कश्यप

आपकी एक बेहतरीन सोच एवं आविष्कार को देखा जिसको देखकर मन आनंदित हो गया। आपकी सोच आगे बहुत से ऐसे लोगों को फायदा पहुंचा सकती है जिनके पास गाड़ी मोटरसाइकिल खरीदने के लिए पैसे नहीं। सरकार में बैठे उच्च पदों पर लोगों को चाहिए आपको भरपूर सहयोग देकर आपसे आपकी इस महान सोच अविष्कार को लोगों को फायदा दिलाएं आप की प्रतिभा को मेरा नमन ऐसे लोगों को अगर सहयोग नहीं किया गया यह एक बहुत बड़ी हानि होगी देश की प्रतिभा के प्रति। – अनूप भाजपाई

जिंदादिल हुनरमंद देश की आन बान शान विश्वकर्मा जी को हृदय से अति अति धन्यवाद जो आपने आम आदमी के लिए इस तरह की युक्ति खोजी अति अति सुंदर वैसे पुनः पुनः स्वास्थ्य मंगल कामना के साथ अनंत अनंत शुभकामनाएं – योगेंद्र योगी

इन्हें सरकार को पुरस्कृत करने के साथ ही इनकी कला को प्रोत्साहित करना चाहिए. – राजेश बरनवाल

वाह शानदार प्रयास, बधाई हो। – यमुना प्रजापति

बहुत-बहुत बधाई हो आपको विश्वकर्मा है तो संसार है – प्रकाश विश्वकर्मा

Excellent work done. He is a blessed soul. – रविंद गुलाटी

बहुत ही सराहनीय कार्य किया है – धीरज सिंह राजपूत

Great technology – अरविंद कुमार

The great work – श्याम सुंदर यादव

महंगाई को देखते हुए अच्छा काम किया है,,,चाचा जी को बहुत बहुत बधाई हो। – डॉ जयप्रकाश वर्मा

युवाओ को सीख लेना चाहिए। आत्मनिर्भर भारत। – दीपक मोदनवाल गुप्ता

जितनी तारीफ करे काम है आप के कला की जय हो – दुर्गेश एम मिर्ज़ापुर

Satish
Satishhttps://www.apnalohara.com/
सतीश कुमार शर्मा ApnaLohara.Com नेटवर्क के संस्थापक और एडिटर-इन-चीफ हैं। वह एक आदिवासी, भारतीय लोहार, लेखक, ब्लॉगर और सामाजिक कार्यकर्ता हैं।
- विज्ञापन -

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- विज्ञापन -

लोकप्रिय पोस्ट

- विज्ञापन -
close