होमबिहारअनुसूचित जनजाति लोहार समुदाय बिहार राज्य एवं केंद्र सरकार

अनुसूचित जनजाति लोहार समुदाय बिहार राज्य एवं केंद्र सरकार

पटना (बिहार, 10 जुलाई, 2019) | बिहार में लोहार जाति किस कैटेगरी में आते हैं? केंद्रीय सरकार में लोहार जाति 2022, Lohara Caste in Central Government List, Lohara Kis Category Me Aata Hai, Latest List of ST In India, ST सूची को कहा से डाऊनलोड करेंगे? जानकारी के लिए पूरी आर्टिकल पढ़े:-

विषय सूची

लोहार जाति किस कैटेगरी में आते हैं?

बिहार में लोहार समुदाय की आबादी लगभग 40 लाख से अधिक है, जो आजादी के 72 वर्षो बाद भी आर्थिक, शैक्षणिक और राजनीतिक रूप से निचले पायदान पर है। इनको संवैधानिक अधिकार से लंबे समय से वंचित रखा गया है। एक नजर इसके इतिहास और वर्तमान पर आगे पढ़िए।

लोहार जाति किस कैटेगरी में आते हैं, केंद्रीय सरकार में लोहार जाति, बिहार में लोहार किस कैटेगरी में आते हैं
लोहार जाति किस कैटेगरी में आते हैं?

अनुसूचित जनजाति लोहार समुदाय बिहार

बिहार में लोहार समुदाय को 1950 से “Lohara” नाम से अनुसूचित जनजाति का प्रमाण पत्र बिहार सरकार/भारत सरकार द्वारा दिया जा रहा था। 1976 में संशोधन कर Roman script (रोमन लिपि) में Lohara और देवनागरी लिपि में लोहार किया गया और पूरे बिहार राज्य में इन्हें अनुसूचित जनजाति का दर्जा दिया जाता रहा। परन्तु 2006 में संशोधन कर लोहार समुदाय को बिहार में अनुसूचित जनजाति का प्रमाण पत्र निर्गत किया जाना बंद कर दिया गया। तत्पश्चात लोहार समुदाय द्वारा लगातार दस वर्षों तक सरकार से संघर्षपूर्ण लड़ाई लड़ी गई और मांग किया गया कि हमारा संवैधानिक अधिकार लागू करें। उसके बाद 2016 में निरसन और संशोधन विधि से 2006 के अधिनियम को निरस्त कर दिया गया। जिसके पश्चात बिहार सरकार द्वारा अनुसूचित जातियाँ और अनुसूचित जनजंतियाँ आदेश (संशोधन) अधिनियम, 1976 के आलोक में Lohara (लोहार) समुदाय को अनुसूचित जनजाति का प्रमाण-पत्र निर्गत करने एवं अन्य सुविधायें दिये जाने की आदेश जारी कर दिया।

केंद्रीय सरकार में लोहार जाति

लेकिन बिहार के संदर्भ में केंद्रीय अनुसूचित जनजातियों की सूची में सुधार की कार्य लंबे समय तक चला। जिसके कारण लोहार समुदाय को भारत सरकार के प्रपत्र पर अनुसूचित जनजाति के प्रमाण पत्र निर्गत करने में और केंद्र सरकार के नौकरियों में नियुक्त में कुछ अधिकारियों द्वारा मनमानी किया जा रहा था। इस परेशानियों को देखते हुए लोहार समुदाय फिर से एक बार अपनी आवाज को बुलंद किया, लगभग तीन वर्षों तक लगातार सरकार से लड़ाईया हुई, धरना प्रदर्शन, दिल्ली सत्याग्रहरेल रोको और भूख हड़ताल इत्यादि जैसे- कई आंदोलन किया गया और मांग किया कि सूची सुधार के कामों में शीघ्रता लाया जाए। इस बीच जनजातीय कार्य मंत्रालय द्वारा इस अधिकार को छिनने की पूरी कोशिश किया गया। कई भ्रम पैदा किया गया लेकिन अन्ततः सत्य की विजय हुई। 29 जून, 2019 को जनजातीय कार्य मंत्रालय (Ministry Of Tribal Affairs, Govt Of India) के वेबसाइट पर देखा गया कि भारत में अनुसूचित जनजातियों की राज्य/ संघ राज्य क्षेत्र-वार सूची में बिहार के संदर्भ में जो अनुसूचित जनजातियों की सूची हैं उसमें क्र. 22 पर लोहार स्पष्ट लिखा हैं। जिसका लाभ बिहार में 40 लाख से अधिक लोहार समुदाय के लोगो को मिलेगा। यह आर्टिकल 10 जुलाई, 2019 को लिखते वक्त भी 29 जून, 2019 के सूचना को पुष्टि किया गया। जिसका वीडियो रिकॉर्डिंग आप देख सकते हैं।

Latest List of ST In India – Latest State/Union Territory-wise list of Scheduled Tribes in India को Download करने के लिए जनजातीय कार्य मंत्रालय (Ministry Of Tribal Affairs, Govt Of India) के वेबसाइट https://tribal.nic.in पर विजिट करें। उसके बाद मेनू बार मे Statistics and Documents पर क्लिक करें। उसके बाद जो पेज खुलेगा उसमे State wise List of Scheduled Tribes in India पर क्लिक कर Download करें। यह List रोमन लिपि (English) में हैं। देवनागरी लिपि (हिंदी) में डाउनलोड करने के लिए मंत्रालय के हिंदी version वेबसाइट https://tribal.nic.in/hindi/indexh.aspx पर विजिट करें। इस वेबसाइट पर मेनू बार मे सांख्यिकी और दस्तावेज पर क्लिक करें। वहाँ भारत में अनुसूचित जनजातियों की राज्य-वार / संघ राज्यक्षेत्र-वार सूची पर क्लिक कर सूची को डाऊनलोड करें और केंद्रीय सरकार में लोहार जाति का Latest Update देखे।

वीडियो को देखे कैसे Download करें

New & Latest Update: 01.01.2022 – जनजातीय कार्य मंत्रालय के वेबसाइट पर रोमन लिपि में State wise List of Scheduled Tribes in India है लेकिन हिंदी में भारत में अनुसूचित जनजातियों की राज्य-वार / संघ राज्यक्षेत्र-वार सूची को वेबसाइट से हटा दिया गया है।

FAQ:-

  1. बिहार में लोहार किस कैटेगरी में आते हैं?

    बिहार में लोहार अनुसूचित जनजाति (ST) कैटेगरी में आते हैं।

  2. केंद्रीय सरकार में लोहार जाति बिहार किस कैटेगरी में आते हैं?

    केंद्रीय सरकार में लोहार जाति बिहार अनुसूचित जनजाति (ST) कैटेगरी में आते हैं।

Satish
Satish
सतीश कुमार शर्मा ApnaLohara.Com नेटवर्क के संस्थापक और एडिटर-इन-चीफ हैं। वह एक आदिवासी, भारतीय लोहार, लेखक, ब्लॉगर और सामाजिक कार्यकर्ता हैं।
- विज्ञापन -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × three =

- विज्ञापन -

लोकप्रिय पोस्ट

- विज्ञापन -