होमन्यूज़चंपारण में आदिवासी लोहार समुदाय ने अपने संवैधानिक अधिकार के लिए उठाई...

चंपारण में आदिवासी लोहार समुदाय ने अपने संवैधानिक अधिकार के लिए उठाई आवाज

मोतिहारी | महात्मा गांधी की कर्मभूमि चंपारण की धरती जहां से अंग्रेजों को भगाने के लिए सत्याग्रह का जन्म हुआ।उसी धरती की मिट्टी पर रविवार 12 अगस्त, 2018 को लोहार समाज अपनी संवैधानिक अधिकार के लिए अपनी अखंड एकता का परिचय देते हुए अपनी आवाज बुलंद की। राजेन्द्र नगर भवन के सभागार, मोतिहारी में आयोजित सम्मेलन की अध्यक्षता अधिवक्ता शिवशंकर ठाकुर व संचालन पूर्वी चम्पारण के लोहार का गाँधी अमीरीलाल ठाकुर ने किया। कार्यक्रम का विधिवत् उद्घाटन बिहार राज्य लोहार समन्वय समिति के संयोजक ई0 हरिशरण ठाकुर (प्रदेश अध्यक्ष लोकस), संरक्षक द्वय गोरखनन्दन विश्वकर्मा व रामाश्रय शर्मा, अध्यक्ष राजकिशोर ठाकुर, समन्वय समिति बनवाने वाले रणननीतिकारों मे से एक धर्मेन्द्र कुमार शर्मा प्रदेशउपाध्यक्ष लो क स, विजय विश्वकर्मा, मुंशीलाल शर्मा, मनोज शर्मा ने संयुक्तरुप से दीप प्रज्वलित कर किया।

चंपारण में आदिवासी लोहार समुदाय
चंपारण में आदिवासी लोहार समुदाय

सभा को संबोधित करते हुए हरिशरण ठाकुर ने कहा कि जब बिहार सरकार ने पूर्व की तरह लोहार को अनुसूचित जनजाति का हक दे दिया है, जो संवैधानिक रुप से सही है तो माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार के रहते भला हमारा हक को कोई छीन नहीं सकता। वर्तमान में जो तकनीकी पेंच है, उसे जल्द से जल्द समाप्त कराने की पहल जारी हैं। वहीं गोरखनन्दन विश्वकर्मा ने कहा कि हमारी समस्या का कूंजी नीतिश कुमार के पास है। बिहार सरकार पर उचित दवाब बनाया जा रहा हैं। परिणम जल्द आने की संभावना है। मैं इतना उम्र होने के बाद भी समाज के लिए समर्पित हूँ। रामाश्रय शर्मा ने कहा कि समाज कई उतार चढ़ाओ देखा है। इतना ही हक पाने के लिए हमें वर्षो संघर्ष करना पड़ा, तो अब तो कठिनाइयाँ है पर दिन दूर नहीं सभी समस्या की समाधन हो जायेगा। समन्वय समिति के अध्यक्ष राजकिशोर ठाकुर ने अपने संबोधन में कहा समाज के इन तीन महापुरुष जिनके त्याग, तपस्या और समर्पण के कारण हमें अनुसूचित जनजाति का दर्जा पुनः मिला है।

युवाओं की समस्या पर चिन्ता जाहिर करते हुए लोकस के उपाध्यक्ष धर्मेन्द्र कुमार शर्मा ने कहा हमारे समाज के बच्चें अफसरशाही के शिकार हो रहें है। बिना वजह की परेशान हो रहे हैं। हमें जल्द से जल्द कुछ करना होगा वरना् हमारे कई युवा साथी की जिंदगी बर्वाद हो जायेंगी। आगे उन्होंने कहा सभी लोग एकता बनाये रखते हुए वर्तमान समस्या से निपटकर समाज को विकास के पथ पर अग्रसर लाने का कार्य करें।

चंपारण में आदिवासी लोहार समुदाय
चंपारण में आदिवासी लोहार समुदाय

जदयू आदिवासी प्रकोष्ठ, पूर्वी चम्पारण के जिला महासचिव चितरंजन शर्मा ने अमीरी लाल ठाकुर को गांधी नामा टोपी से सम्मानित किया और कहा कि यह व्यक्ति जेपी आंदोलन 1974 से लगातार निस्वार्थ भाव से काम करते रहने के लिए हमारे अभिभावकगण 25 नवंबर, 2012 को अंग वस्त्र देकर लोहार का गांधी से विभूषित कर दिया। उन्ही को आज के सभा मे युवा वर्ग गांधी नामा टोपी से सम्मानित कर रहा हैं। इस मौके पर सभा को संबोधित करते हुए अमीरीलाल ठाकुर ने कहा कि हम माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी पर पूरा विश्वास और भरोसा रखे है कि हमारे बच्चों का भविष्य की चिंता उन्हें भी है। साथ ही उन्होंने यह भी घोषणा किए हैं कि अगर काम नहीं हुआ तो आने वाले समय में दिल्ली जंतर-मंतर पर आमरण अनशन अवश्य करुंगा और जरुरत पड़ा तो जदयू पार्टी से भी इस्तीफा देकर बिहार में भी आंदोलन करुंगा।

इस मौके पर सभी वक्ताओं ने केन्द्र सरकार मे उलझी समस्या के निदान पर विस्तृत चर्चा की और बच्चो नौजवानों को आगे आकर सहयोग करने का आह्वान किया। सम्मेलन को समाज के कई प्रबुद्ध समाजसेवीयों ने संबोधित किया। इस सफल सम्मेलन की खासियत यह रहीं की सभी समाज समाजसेवीयों ने प्रतिज्ञा लिये की हम सभी एक साथ मिलजुल कर समाज के लाभ के लिए काम करेंगे। सभा में हजारो की संख्या में आदिवासी लोहार समाज के लोग भाग लिया। सम्मेलन में शामिल सभी गणमान्य व्यक्तियों और आदिवासी लोहार भाइयों को धन्यवाद ज्ञापन मुखिया दीपक ठाकुर ने किया।

Satish
Satish
सतीश कुमार शर्मा ApnaLohara.Com नेटवर्क के संस्थापक और एडिटर-इन-चीफ हैं। वह एक आदिवासी, भारतीय लोहार, लेखक, ब्लॉगर और सामाजिक कार्यकर्ता हैं।
- विज्ञापन -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

six − 4 =

- विज्ञापन -

लोकप्रिय पोस्ट

- विज्ञापन -
close